shramik card ke fayde : आप भी बनावा लो जाने क्या है फायदे

shramik card ke fayde

लेबर कार्ड लाभ की ओर कूदने से पहले, ऐसे प्रशासनिक कार्यों के उद्देश्य को जानना अच्छा है। भारत में श्रम कार्ड/श्रमिक कार्ड शुरू करने के पीछे के लक्ष्य नीचे दिए गए हैं:‎

  • ‎श्रम योजनाओं की जानकारी के लिए असंगठित क्षेत्र का डेटाबेस तैयार करें‎
  • ‎असंगठित श्रमिक वर्ग के लिए रोजगार के अवसर‎
  • ‎पीएमएसबीवाई योजना (प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना) के तहत पहले वर्ष के लिए मुफ्त नामांकन‎
  • ‎महामारी (लॉकडाउन में श्रम कार्ड लाभ) आदि जैसी अभूतपूर्व आकस्मिकताओं में यूएएन के माध्यम से प्रत्यक्ष लाभ।‎

‎श्रम कार्ड लाभ: सरकारी योजनाएं‎

‎सामाजिक सुरक्षा कल्याण योजनाएं‎‎रोजगार की योजनाएं‎
‎प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना (पीएम-एसवाईएम)‎‎महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा)‎
‎प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना (पीएमजेजेबीवाई)‎‎दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना (डीडीयू-जीकेवाई)‎
‎नेशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस)‎‎गरीब कल्याण रोज़गार योजना‎
‎प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना (पीएमजेजेबीवाई)‎‎दीन दयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना (दिवस)‎
‎प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई)‎‎पीएम स्वनिधि‎
‎प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना (पीएमजेजेबीवाई)‎‎प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई)‎
‎अटल पेंशन योजना‎‎प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी)‎
‎प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना (पीएमएवाई-जी)‎
‎राष् ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी)‎ 
‎आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी-पीएमजेएवाई)‎
‎बुनकरों के लिए स् वास् थ् य बीमा योजना (एचआईएस)‎
‎प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना‎
‎राष् ट्रीय सफाई कर्मचारी वित् त एवं विकास निगम (एनएसकेएफडीसी)‎
‎मैला ढोने वालों के पुनर्वास के लिए स्वरोजगार योजना‎
shramik card ke fayde
shramik card ke fayde

ई-लेबर कार्ड लाभ: रोजगार योजनाएं‎

  • ‎महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम 2005 (मनरेगा) ग्रामीण क्षेत्रों में प्रति परिवार 100 दिनों तक रोजगार के अवसर प्रदान करता है।‎
  • ‎ग्रामीण क्षेत्रों में युवा पीढ़ी के लिए कौशल और प्रासंगिक नौकरियां प्रदान करने के लिए दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना (डीडीयू-जीकेवाई)।‎
  • ‎गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत कुसुम कार्यों, मवेशियों के शेड, पोल्ट्री शेड, बकरी शेड आदि में प्रति वर्ष 125 दिनों के रोजगार के अवसर।‎
  • ‎गरीब नागरिकों के वित्तपोषण और समर्थन के माध्यम से कौशल और स्व-व्यवसाय को बढ़ाने के लिए दीन दयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना (दिवस)।‎
  • ‎पीएम स्वनिधि, यानी प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना का उद्देश्य 10,000 रुपये तक के कार्यशील पूंजी ऋण की सुविधा प्रदान करना, नियमित भुगतान को प्रोत्साहित करना और डिजिटल लेनदेन को पुरस्कृत करना है।‎
  • ‎एक योजना जो कौशल के अवसरों का लाभ उठाती है और बढ़ावा देती है, पीएमकेवीवाई (प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना) के नाम से कुशल प्रशिक्षण और प्रमाणन प्रदान करती है।‎
  • ‎प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) नवोदित उद्यमों की स्थापना के लिए आसान वित्तीय सहायता प्रदान करेगा।‎

‎श्रम कार्ड के लाभ: सामाजिक सुरक्षा कल्याण योजनाएं‎

  • ‎बीड़ी, खदान और सिने श्रमिकों के बच्चों के लिए लेबर कार्ड छात्रवृत्ति योजना के तहत बच्चों की शिक्षा छात्रवृत्ति।‎
  • ‎पीएमजेजेबीवाई (प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना) के तहत वार्षिक जीवन कवरेज के लाभ के साथ जीवन बीमा‎
  • ‎2 लाख रुपये तक के जीवन कवर के साथ स्वास्थ्य बीमा लाभ और पीएमएसबीवाई (प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना) के तहत विकलांगता कवरेज‎
  • ‎पीएमएबीवाई (प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना) के तहत 5 लाख रुपये तक के लाभ के साथ स्वास्थ्य बीमा‎
  • ‎पीएमएसवाईएम (प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना) जैसी पेंशन योजनाओं के माध्यम से वृद्धावस्था संरक्षण।‎
  • ‎राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) – विशेष रूप से व्यापारियों और स्व-नियोजित लोगों के लाभ के लिए पेंशन योजना।‎
  • ‎अटल पेंशन योजना नामक पेंशन योजना जिसके तहत लाभार्थियों को एक निश्चित आयु के बाद मासिक पेंशन मिलती है या लाभार्थी की मृत्यु के बाद नामांकित व्यक्तियों को संचित राशि मिलती है।‎
  • ‎खाद्य सुरक्षा और किफायती मूल्यों पर वितरण के लिए सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस)।‎
  • ‎प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना (पीएमएवाई-जी) के तहत मैदानी क्षेत्रों में लाभार्थी को 1.2 लाख रुपये और पहाड़ी क्षेत्रों में 1.3 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता‎
  • ‎राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी) – आय के कम या बिना स्रोत वाले लोगों के लिए केंद्र और राज्य योगदान द्वारा संयुक्त पेंशन योजना।‎
  • ‎बुनकरों के लिए स् वास् थ् य बीमा योजना (एचआईएस) के माध् यम से बुनाई उद्योग में लगे श्रमिकों के लिए विशिष् ट योजना‎
  • ‎प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के अनुसार छोटे और सीमांत किसानों के लिए पेंशन योजना‎
  • ‎एनएसकेएफडीसी (राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त और विकास निगम) के तहत सफाई कर्मचारियों, मैला ढोने वालों और उनके आश्रितों को स्वच्छता गतिविधियों और शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता‎
  • ‎मैला ढोने वालों के पुनर्वास के लिए स्वरोजगार योजना जिसके तहत मैला ढोने वालों और उनके प्रत्यक्ष आश्रितों को उनकी पसंद का कौशल प्रशिक्षण और एक निश्चित राशि का मासिक वजीफा प्रदान किया जाता है।‎

MUST READ : HINDIWORKS

SBI Clerk 2022 : 5486 पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी, ऑनलाइन करें आवेदन‎

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *